जिंदगी में कुछ चीजों को न कहना भी सीखिये

google image

1- उन लोगों को न कहना सीखिये जो हर वक्त आपका ध्यान चाहते हैं। एेसे लोग आपको अपनी तरफ आकर्षित करके आपको स्वयं से दूर कर देते हैं।

2- ऐसे कामों को न कहना सीखिये जिन्हें आप सिर्फ मजबूरी में करते हैं। लंबे अंतराल में ऐसे कार्य आपके लिए जितना आप सोचते हैं उससे कहीं अधिक नुकसानदेह साबित होते हैं।

3- ऐसे लोगों को न कहना सीखिये जो आपको अपने लिए बदलना चाहते हैं। जो लोग आपको आपके स्वाभाविक रूप में स्वीकार नहीं करते हैं वे आपके योग्य नहीं होते हैं।

4- ऐसी मानसिकता को न कहना सीखिये जो सभी को खुश करना चाहती है। आप एक समय में सभी को खुश नहीं कर सकते हैं।

5- क्रोध,ईर्ष्या आदि नकारात्मक मनोभावों को न कहना सीखिये जो आपकी मानसिक ऊर्जा को जोंक की तरह चूसकर आपको थका देते हैं।

6- उन अव्यावहारिक अपेक्षाओं को न कहना सीखिये जो आप दूसरों और खुद से रखते हैं। याद रखिए कि आपकी हर अपेक्षा पर न तो दूसरे और न ही आप खुद खरे उतर सकते हैं।

7- न कहना सीखिये उन चीजों और लोगों को जिन्हें आप कसकर पकड़ना चाहते हैं। जीवन का यह नियम है कि जिस चीज को आप जितना ज्यादा चाहते हैं वह आपसे उतनी ही जल्दी दूर हो जाती है।

8- लोगों को बदलने की कोशिश को न कहना सीखिये, आप सिर्फ एक ही इंसान को बदल सकते हैं जो आप स्वयं है।

9- न कहना सीखिये उस प्रवृत्ति को जो अपनी असफलताओं के लिए दूसरों को दोषी ठहराती है। बेहतर होगा कि आप अपने कामों की जिम्मेदारी स्वयं लेना सीखिये।

Leave a Reply